Realme Band रिव्यु: खरीदने से पहले जान लें ये बातें

Realme ने भारत में अपनी शुरुआत केवल 2 साल पहले ही की है और इतने कम समय में भारत में ये एक नामी स्मार्टफोन कंपनी बन चुकी है जो कि Redmi, Nokia और samsung जैसे ब्रांडों को अच्छी टक्कर दे रही है। लेकिन कंपनी अब एक कदम आगे बढ़कर स्मार्टफोन ब्रांड से लाइफस्टाइल ब्रांड बनने की पूरी कोशिश कर रही है, जिसकी शुरुआत Realme Band के साथ हो चुकी है, जो कि हाल ही में भारत में लॉन्च किया गया है। कंपनी का ये पहला फिटनेस बैंड कैसा है और इसमें आपको क्या क्या फीचर मिलते हैं? क्या ये Xiaomi के Mi Band 4 को टक्कर दे पायेगा? आइये जानते हैं इसके डिटेल रिव्यु में।

ये भी पढ़ें: Realme 6 Pro भारत में लॉन्च हुआ

Realme Band डिज़ाइन

इस बैंड का डिज़ाइन काफी सादा है और उसी की वजह से ये देखने में काफी अच्छा भी लगता है। Realme Band में रब्बर के स्ट्रैप्स (फीते) हैं जो कि पीले, काले और हरे रंगों में मिलेगी और ट्रैकर का आकार रेक्टेंगुलर (समकोण) है। इसमें दिए गए स्ट्रैप की क्वालिटी भी काफी अच्छी है और दिए गए छेदों के द्वारा आप इसे आसानी से एडजस्ट कर सकते हैं।

Realme Band

Realme Band डिस्प्ले

Realme Band की डिस्प्ले 0.96 इंच की है और टीएफटी एलसीडी पैनल है, साथ ही सूरज की रौशनी में भी ये काफी साफ़ और अच्छी नज़र आती है। इसके अलावा ये IP68 प्रामाणिकता के साथ वॉटर प्रूफ है, तो आप इसे तैरने या फिर बारिश के दौरान भी पहन सकते हैं।

हमने इस बैंड को लगभग दो दिन इस्तेमाल किया है और दिन या रात में किसी भी समय स्क्रीन में देखने में कोई समस्या नहीं आयी है। लेकिन इसमें एक कमी ये है कि इसकी डिस्प्ले टच से नहीं चलती है। डिस्प्ले के नीचे एक बटन है, जिसे दबाने पर स्क्रीन ऑन होगी और फिर से दबाने पर अगली स्क्रीन और फिर अगली आपको नज़र आएगी। वहीं बटन को देर तक दबाने पर वर्कआउट के विकल्प नज़र आएंगे।

इस Realme Band को चलाने के लिए आप अपने फ़ोन में Realme Link App डाउनलोड कीजिए जिसके द्वारा आप इस बैंड को आसानी से और पूरी तरह इस्तेमाल कर पाएंगे।

Realme Band फिटनेस ट्रैकर फीचर

Realme Band में साधारण स्टेप ट्रैकर, कैलोरीज़ की गिनती, आपके नींद को ट्रैक करना, तय की गई दूरी, हार्ट रेट मॉनिटर जैसे फीचर दिए गए हैं।

अब ये फीचर कितने सही हैं, ये जानने के लिए हमने इस बैंड की Mi Band 4 के साथ तुलना की और पाया कि दोनों आपको लगभग एक ही रीडिंग बताते हैं। हालांकि थोड़ा सा अंतर आपको इनमें देखने को मिलेगा, जैसे कि स्टेप ट्रैकिंग में।

इसके अतिरिक्त Realme Link app से ब्लूटूथ के द्वारा पेअर करने पर आपको इसमें वर्कआउट के 9 मोड या विकल्प नज़र आएंगे, इनमें से किन्हीं तीन को आप वाच मेनू में लगा सकते हैं। इसके बाद वर्कआउट मोड से बाहर जाने के लिए आपको वही एक बटन कुछ सेकंडों के लिए दबाना है। साथ ही इसमें आप पानी पीने के रिमाइंडर, अलार्म और टाइमर भी लगा सकते हैं।

बैटरी

इस फिंटनेस ट्रैकर की बैटरी 90एमएएच की है जो कि लगभग 8 दिन तक चल सकती है। हालांकि अगर आप इसका साधारण इस्तेमाल करते हैं तो ये 10 दिन तक भी चल सकती है। वहीँ पूरा चार्ज होने में इस बैटरी को 2 घंटे का समय लगता है।

इसकी बैटरी और चार्जिंग को लेकर एक अच्छी बौर बुरी बात भी है। बुरी बात ये है कि इस बैंड में कोई चार्जिंग इंडिकेटर या लाइट नहीं है, प्लग-इन करने पर इसमें कहीं भी कोई लाइट नहीं जलती। वहीं अच्छी बात ये है कि इसके लिए कंपनी ने कोई अलग से चार्जर लॉन्च नहीं किया है। Realme Band का स्ट्रैप एक तरफ से निकलता है और उसी तरफ से आप इसे किसी भी यूएसबी पोर्ट में लगा सकते हैं, जैसे कि आप पेन ड्राइव को लगाते हैं।

सॉफ्टवेयर

यहां पर सॉफ्टवेयर शायद अभी सही तरह से तैयार नहीं है। Realme Link App और Realme Band दोनों में ही इंटरफ़ेस को लेकर कुछ खामियाँ हैं। लेकिन अच्छी बात ये है कि कंपनी इनके इंटरफ़ेस पर काम कर रही है। फिलहाल के लिए इस बैंड में म्यूजिक कण्ट्रोल, कॉल का जवाब देना , फाइंड माय फ़ोन फीचर के साथ अपने फ़ोन को ढूंढना जैसे कई फीचर अभी नहीं हैं।

सबसे बड़ी कमी यही है कि टच स्क्रीन भी नहीं है और एक कपैसिटिव बटन के साथ ट्रैकर के सभी फीचरों का इस्तेमाल बहुत सीमित हो जाता है। जैसे कि आप मैसेज देख सकते हैं, लेकिन अगर गलती से मैसेज पढ़ते समय कपैसिटिव या पावर बटन दब जाए, तो आप वापस मैसेज नहीं खोल सकते, इनकमिंग कॉल को काट सकते हैं, लेकिन उठा नहीं सकते। इसके अलावा कई बार ऐप से कनेक्शन भी टूट जाता है।

Realme Band

निष्कर्ष

Realme का ये पहला फिटनेस बैंड है, जो कि लगभग सभी फीचरों में आपको काफी सटीक रीडिंग देता है। इसके अलावा इसमें आपको बैटरी भी काफी अच्छी मिलती है। इसमें दिए गए स्ट्रैप्स के रंगों के विकल्प भी अच्छे हैं और उनकी क्वालिटी भी काफी अच्छी है। साथ ही इस बैंड को चार्ज करने के लिए किसी वायर या अलग से चार्जर की आवश्यकता नहीं है, इस बैंड को आप सीधे किसी भी यूएसबी पोर्ट में लगाकर चार्ज कर सकते हैं।

वहीं इसमें कुछ नकारात्मक चीज़ें भी हैं, जैसे कि डिस्प्ले अमोलेड या ओलेड नहीं, बल्कि टीएफटी एलसीडी है, जो कि तुलना में कम ब्राइट है। इंटरफ़ेस को लेकर भी अभी कार्य प्रगति पर है और वर्तमान में थोड़ी कमी है। इसके अलावा टच काम नहीं करता है।

हालांकि इसकी कीमत भी काफी कम है। इसे आप केवल 1,499 रूपए में खरीद सकते हैं। अगर आपका बजट इतना ही है और आप केवल साधारण फीचर जैसे कि स्टेप्स की गिनती, स्लीप मॉनिटर, इत्यादि का ही इस्तेमाल करते हैं, तो आप इसे खरीद सकते हैं। वहीं अगर आप फिटनेस ट्रैकर का भरपूर प्रयोग करना चाहते हैं, तो थोड़ा पैसा और खर्च करें और ओलेड टच डिस्प्ले के साथ आने फिटनेस ट्रैकर खरीद सकते हैं।

Facebook Comments

Recommended For You

About the Author: Pooja Choudhary

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: