#MeToo कैंपेन के दौरान महिलायों ने लगाए बॉलीवुड की इन 5 हस्तियों पर यौन शोषण के आरोप

# MeToo कैंपेन की शुरुआत भले ही विदेश से हुई हो, लेकिन तनुश्री दत्ता द्वारा 80 के दशक के लोकप्रिय अभिनेता नाना पाटेकर पर लगे छेड़छाड़ के आरोप के बाद, इस कैंपेन के बॉलीवुड इंडस्ट्री में तबाही सी मचा दी है |

सोशल मीडिया के ज़रिये बॉलीवुड की कई दिग्गज हस्तियाँ, अपने डायरेक्टर, सह-कलाकार, लेखक इत्यादि पर यौन शोषण या छेड़छाड़ का आरोप लगाती नज़र आयीं | बहरहाल #MeToo कैंपेन ने कई औरतों या पीड़िताओं को अपनी बात रखने और इन्साफ पाने का एक मौका दिया है, लेकिन वहीँ दूसरी तरफ कई बॉलीवुड जगत की बड़ी हस्तियों का नाम काफी खाराब भी हुआ है |

आइये आपको बताते हैं की कौन सी बड़ी हस्तियाँ इस #MeToo आन्दोलन का शिकार बनीं हैं |

नाना पाटेकर

इस सूची में सबसे पहला नाम है, मशहूर अभिनेता नाना पाटेकर का | तनुश्री दत्ता का ये आरोप है कि दस वर्ष पहले आई फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज़’ की शूटिंग के दौरान नाना पाटेकर ने उनसे छेड़छाड़ और बदसुलूकी करने का प्रयास किया था, हालांकि नाना पाटेकर इस बात से साफ़ इन्कार करते हैं और उन्होंने इस बात के लिए तनुश्री दत्ता को लीगल नोटिस भी भेज दिया है |

लेकिन फिर भी उम्मीद किसी ने नहीं की थी, कि इस दिग्गज कलाकार पर कोई ऐसा आरोप भी लगाएगा |

कैलाश खेर

अपनी मधुर आवाज़ से लोगों को दीवाना बना चुके, इस गायक पर भी एक आरोप लगा है | #MeToo कैंपेन के तूफ़ान की गाज कैलाश खेर पर भी गिरी और जर्नलिस्ट नताशा हेमरजानी ने ट्विटर के ज़रिये स्वयं के साथ हुए अत्याचार का खुलासा किया | उन्होंने बताया की किस तरह सिंगर कैलाश खेर और मॉडल जुल्फी सैयद ने उनके साथ छेड़छाड़ करने का प्रयास किया | साथ ही गायिका सोना मोहपात्रा ने भी कैलाश पर शोषण का आरोप लगाया है |

इसके जवाब में कैलाश खेर ने ये कहा है कि यदि किसी को कोई बात गलत लगी या कोई ग़लतफहमी हुई, तो मैं माफ़ी मांगता हूँ |

रजत कपूर

‘कपूर एंड संस’ फिल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा के पिता का किरदार जिस शख्स ने किया था, वो तो याद ही होंगे आपको | इनका नाम है – रजत कपूर | #MeToo की मार से ये भी अपना दामन नहीं बचा सके | एक महिला पत्रकार ने इन पर भी बदसुलूकी का आरोप लगाया है | लेकिन इस ख़बर के सामने आते ही, रजत ने अपने व्यवहार के लिए सार्वजनिक तौर पर क्षमा याचना की |

चेतन भगत

फिल्म ‘2 स्टेट्स’ और ‘हाफ गर्लफ्रेंड’ मशहूर लेखक चेतन भगत की नॉवेल पर ही बनायी गयी हैं | इन्हें आप रियलिटी शो ‘नच बलिये’ में जज की भूमिका में भी देख चुके होंगे | इन पर भी दो महिला पत्रकारों द्वारा यौन शोषण का आरोप लगा है | इन्हीं में से एक महिला ने अपने वाट्सऐप के स्क्रीन शॉट ट्विटर पर साझा किये, और ये प्रमाणित किया कि चेतन भगत दोषी हैं |

लेखक चेतन भगत ने चाहने वालों को निराशा तब हुई, जब उन्होंने इस बात को स्वीकार किया और अपनी पत्नी व इस महिला से क्षमा मांगी |

उत्सव चक्रवर्ती और तन्मय भट्ट

AIB शो की दुनिया दीवानी है | इस कॉमेडी शो में कई बॉलीवुड हस्तियाँ भी आपको नज़र आई होंगी और इस शो की जान हैं तन्मय भट्ट और उत्सव चक्रवर्ती, लेकिन #MeToo कैंपेन में इन पर भी बिजली गिरी और AIB ने इन्हें टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया | दरअसल, उत्सव चक्रवर्ती पर एक महिला ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया है और साथ ही दूसरे सदस्य गुरसिमरन खांबा पर भी मानसिक शोषण का आरोप है | तन्मय भट्ट के इन दोनों के आरोपों पर पर्दा डाला और वो भी इस मामले में दोषी बन गए |

ऐब ने इन तीनों को बाहर निकाल दिया है और hotstar ने AIB के अगले सीजन को दिखाने से मन भी कर दिया है |

ये तो वो नाम हैं, जो जाने-माने हैं और इस कैंपेन के ज़रिये सामने आ गए हैं | इसी लिस्ट में एक बरसों से सीधे=साधे पिता का किरदार निभाते अलोक नाथ पर भी शोषण का आरोप है और वरुण ग्रोवर, गौरांग दोषी जैसे लोग भी दोषी बताये गए हैं | लेकिन जब बॉलीवुड का ये हाल है, तो क्या समाज में जी रही आम महिलाएं सुरक्षित हैं, या पीड़ित रह चुकी इन महिलायों को कभी अपनी आप बीती सुनाने का मौका मिलेगा या फिर क्या कभी उनके दोषियों को सज़ा मिलेगी ?

और इस सवाल ये भी है कि क्या इन आरोपों में कितनी सच्चाई है और कहीं लोग इसका गलत इस्तेमाल तो नहीं कर रहे ?

इस #MeToo कैंपेन से ये सभी प्रश्न ज़हन में उठते हैं ? आप क्या सोचते हैं, हमें ज़रूर बताएं |

Facebook Comments

Recommended For You

About the Author: Pooja Choudhary

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: