ताज़ा अमेरिकन ड्रोन हमले से पाकिस्तान में दहशत

पाकिस्तान में ताज़ा अमेरिकन ड्रोन हमले से दहशत फ़ैल गई है। अफगानिस्तान की सीमा पर कुर्रम एजंसी इलाके में हुए इस हमले में हक्कानी नेटवर्क का कमांडर एहसान और उसके दो साथी मारे गए। पाकिस्तान में अमेरिकी ड्रोन हमलों का सिलसिला बहुत पुराना है। लेकिन अमेरिका पाकिस्तान संबंधों में आई तल्खी के बाद हुए इस हमले की तासीर कुछ अलग है। अफगानिस्तान में आतंकवादी घटनाओं से परेशान अमेरिका अब पाकिस्तान को सबक सीखाने को आमदा है। पिछले छह महीनों से लगातार पाकिस्तान को आतंकवादियों के ठिकानों को खत्म करने के लिए कहा जा रहा है। लेकिन पाकिस्तान हमेशा की तरह इंकार की मुद्रा अपना कर बैठा है।

अमेरिका के हमले के बाद पाकिस्तान में दहशत का माहौल है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने अमेरिका से एक बार फिर एक्शन लेने लायक ख़ुफ़िया जानकारी साँझा करने की अपील की। मुंबई हमले का मास्टर माइंड हाफिज सईद ने अदालत का रुख किया। पत्रकारों से बात करते हुए हाफिज ने कहा कि अमेरिका और भारत को खुश करने के लिए पाकिस्तान सरकार उसे गिरफ्तार कर सकती है। हाफिज ने लाहौर हाई कोर्ट से अपनी गिरफ्तारी पर रोक लगाने की मांग की। भारत के एक अन्य दुश्मन सैय्यद सल्लाउदीन ने कहा कि भारत से उसकी कोई दुश्मनी नहीं है। वह सिर्फ कश्मीर में साढ़े सात लाख सैनिकों की मौजूदगी का विरोध करता है।

दरअसल भारत में पाकिस्तान में मौजूद आतंकवादियों के खिलाफ सीधी कार्यवाही करने की मांग जोर पकड़ रही है। भारत और इजरायल की बढ़ती नजदीकी के चलते पाकिस्तान में इस तरह के एक्शन का खतरा महसूस किया जा रहा है। नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा एलओसी पर सेना को खुला हाथ देने के बाद भी पाकिस्तान परेशान है। चीन द्वारा भी भारत के खिलाफ पाकिस्तान को किसी प्रकार का सहयोग देने से मना किया जा चुका है। पाकिस्तान पर शिकंजा निरंतर कसता जा रहा है। दुनिया भर में अकेलेपन का शिकार होने के साथ पाकिस्तान आर्थिक तंगी का भी मारा हुआ है। उसकी बरबादी आने वाले दिनों में पूरी दुनिया देखने जा रही है।

अमित यायावर

aakritipr@gmail.com

Facebook Comments

Recommended For You

About the Author: Amit Yayavar

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: