कोरोनावायरस का स्मार्टफोन मार्किट पर असर; स्मार्टफोन बिक्री में अब तक की सबसे ज्यादा गिरावट

कोरोनावायरस के फ़ैलने पर सरकार ने लगभग पूरे भारत में लॉकडाउन कर दिया है। इतना ही नहीं दुनियाभर में इसी तरह का हाल है और सभी देशों की सरकारें लोगों को घरों में रहने का आदेश भी दे रहीं हैं। हालांकि सुरक्षा को देखते हुए ये बेहद ज़रूरी कदम हैं, लेकिन ऐसे में लगभग सभी व्यवसायों को काफी हानि भी झेलनी पड़ रही है। वहीं स्मार्टफोनों की दुनिया पर भी इसका भारी असर है और स्मार्टफोन मार्किट में भी कोरोनावायरस की वजह से अब तक की सबसे बड़ी गिरावट नज़र आयी है।

इस महामारी से जब सभी बाज़ार और मॉल बंद हैं, तो ज़ाहिर है कि स्मार्टफोन की दुकानें भी बंद हैं और स्मार्टफोनों की बिक्री में भी इस तरह की गिरावट सबको हैरान कर रही है। स्ट्रैटिजी अनालिटिक्स के सूत्रों के अनुसार पिछले महीने में ग्लोबल स्मार्टफोन शिपमेंट में सालाना 38 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी जो कि अभी तक की सबसे ज्यादा है।

coronavirus social distinction

इन्हीं रिपोर्टों के अनुसार ये भी सामने आया है कि 2019 में फरवरी में 99.2 मिलियन स्मार्टफोन यूनिट सेल हुए, वहीं इस वर्ष फरवरी में केवल 61.8 मिलियन यूनिट की ही बिक्री हुई है, जो कि बहुत भारी गिरावट है। और इस महीने का हाल तो आप देख ही रहे हैं, भारत ही नहीं, विश्व के कई देश इस COVID-19 बीमारी की चपेट में हैं, ऐसे में स्मार्टफोन की बिक्री में और भी गिरावट आएगी।

भारत में इस वायरस ऑउटब्रेक के चलते लॉकडाउन किया गया है, जिसमें तीन बड़ी स्मार्टफोन कंपनियों सैमसंग, वीवो और ओप्पो को भी अपने भारतीय मैन्युफैक्चरिंग प्लांट कुछ दिनों के लिए बंद करने पड़े हैं। इन तीनों कंपनियों की फैक्टरियाँ ग्रेटर नॉएडा में स्थित हैं, जहां फिलहाल यु.पी. सरकार द्वारा किये गए लॉकडाउन के चलते उत्पादन पर रोक लगी है।

कोरोनावायरस

दूसरी तरफ, इस बीमारी से डरे हुए लोग फोन खरीदने के लिए दुकान तक जाना नहीं चाहते हैं और अब बहुत से शहरों में ये दुकानें भी 31 मार्च तक बंद हैं।

फरवरी में स्मार्टफोनों का सबसे बड़ा इवेंट मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस (MWC 2020) भी इसी कोरोनावायरस के चलते रद्द किया गया। इसके बाद अब गूगल ने भी अपना सबसे बड़ा इवेंट एनुअल डेवलपर कॉन्फ्रेंस Google I/O 2020 पूरी तरह से रद्द करने का निर्णय लिया है। पहले कंपनी ने फिज़िकल इवेंट की जगह ऑनलाइन इवेंट करने को कहा और अब घोषणा की कि ये इवेंट अब किया ही नहीं जायेगा।

चीन जो कि स्मार्टफोनों को लेकर सबसे महत्वपूर्ण देशों में से एक है, वहाँ भी COVID-19 संक्रमण के कारण सभी कंपनी और फोन स्टोर बंद हैं, जिनमें से ऐपल भी एक है और अभी ये भी नहीं पता कि ये स्थिति वहाँ कब तक है। भारत में भी इसी कारण से अब आयात-निर्यात पर रोक लगी है, जिसके खुलने को लेकर फिलहाल कोई तारीख़ निश्चित नहीं है और इन्हीं कारणों से भविष्य में यहां स्मार्टफोन लॉन्च करने वाली कंपनियां दामों में वृद्धि अवश्य कर सकती हैं।

Subscribe to Our YouTube Channel

Facebook Comments

Recommended For You

About the Author: Pooja Choudhary

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: